राष्ट्रपिता महात्मा गांधी पर 51+ नारे

महात्मा गांधी, मोहनदास करमचंद गांधी के नाम से, (जन्म 2 अक्टूबर, 1869, पोरबंदर, भारत- मृत्यु ३० जनवरी, 1948, दिल्ली), भारतीय वकील, राजनीतिज्ञ, सामाजिक कार्यकर्ता, और लेखक जो अंग्रेजों के खिलाफ राष्ट्रवादी आंदोलन के नेता बने ।

भारत का शासन। इस प्रकार, उन्हें अपने देश का पिता माना जाने लगा। गांधी को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर राजनीतिक और सामाजिक प्रगति हासिल करने के लिए उनके अहिंसक विरोध (सत्याग्रह) के सिद्धांत के लिए सम्मानित किया जाता है ।

Mahatma Gandhi Slogan in Hindi

1आँख के बदले में आँख पूरे दुनीया को अँधा बना देगी ।

2. आप वह बदलाव खुद बनिए जो आप दूसरों में देखना चाहते हैं !

3. किसी की मेहरबानी माँगाना, अपनी आजादी बेचना है ।

4. करो या मरो

5. कानों का दुरुपयोग मन को दूषित और अशांत करता है ।

6. भारत छोड़ो

7. आप मुझे बेडियों से जकड़ सकते हैं, यातना भी दे सकते हैं, यहाँ तक की आप इस शरीर को ख़त्म भी कर सकते हैं, लेकिन आप कदापि मेरे विचारों को कैद नहीं कर सकते ।

8. मेरा जीवन ही मेरा सन्देश है ।

9. जहाँ प्रेम है वहां जीवन है ।

10. ख़ुशी वही है जब आपकी सोच, आपके शब्द और आपके कर्मो में तालमेल हो ।

11.खुद में बदलाव करे दुनिया बदलने लग जायेगी ।

12. विश्व में कुछ ऐसे भी लोग हैं जो इतने भूखे हैं कि भगवान् उन्हें किसी और रूप में नहीं दिख सकता, सिवाय रोटी देने वाले के रूप में ।

13. ईश्वर का कोई धर्म नहीं है ।

14. दिल की कोई भाषा नहीं होती, दिल – दिल से बात करता है ।

15. कमज़ोर कभी माफ नहीं कर सकते क्षमा ताकतवर की विशेषता है ।

16. आप मानवता में विश्वास मत खोये ।

17. हमेशा अपने विचारों, शब्दों और कर्म के पूर्ण सामंजस्य का लक्ष्य रखें। हमेशा अपने विचारों को शुद्ध करने का लक्ष्य रखें और सब कुछ ठीक हो जायेगा ।

18. जब आपका सामना किसी विरोधी से हो, तो उसे प्रेम से जीतें, अहिंसा से जीते ।

19. आँख के बदले में आँख पूरे दुनिया को अँधा बना देगी  ।

20. पाप से घृणा करो पापी से प्रेम करो  ।

21 . सत्य कभी ऐसे कारण को क्षति नहीं पहुंचाता जो उचित हो

ये भी पढ़े 

22. प्रेम दुनिया की सबसे बड़ी शक्ति है ।

23. शायद सचमुच मैं वो करने में असमर्थ हो जाऊं। और इसके विपरीत अगर मैं यह यकीन करूँ कि मैं ये कर सकता हूँ, तो मैं निश्चित रूप से उसे करने की क्षमता पा ही लूँगा, फिर भले ही शुरू में मेरे पास वो क्षमता ना रही हो ।

24. खुशी तब होती है जब आप क्या सोचते हैं, आप क्या कहते हैं, और आप क्या करते हैं, सभी में सामंजस्य हो 

25.जहाँ प्रेम है वहां जीवन है ।

26.सत्य एक है और उसको पाने के रास्ते बहुत है ।

27.केवल प्रसन्नता ही एकमात्र इत्र है, जिसे आप दुसरे पर छिड़के तो उसकी कुछ बुँदे अवश्य ही आप पर भी पड़ती है ।

28.मेहरबान दुसरो के न रहो आत्मनिर्भर बनो खुश रहो ।

29. भगवान का कोई धर्म नहीं है ।

30.जो समय की बचत करते हैं, वे धन की बचत करते हैं और बचाया हुआ धन, कमाएं हुए धन के बराबर है ।

31. ख़ुशी वही है जब आपकी सोच आपके शब्द और आपके कर्मो में तालमेल हो ।

32. चिंता से अधिक शरीर को कोई और चीज बर्बाद नहीं करती ।

33.लम्बे-लम्बे भाषणों से कही अधिक मूल्यवान है इंच भर कदम बढ़ाना

34.भविष्य बनेगा तभी सुनहरा जब अभी करोगे मेहनत पूरा ।

35.जब आपका सामना किसी विरोधी से हो, तो उसे प्रेम से जीतें, अहिंसा से जीते ।

36. पाप से घृणा करो, पापी से प्रेम करो ।

37.आप कभी भी यह नहीं समझ सकेंगे की आपके लिए कौन महत्त्वपूर्ण है जब तक की आप उन्हें वास्तव में खो नहीं देंगे ।

38.ऐसे जिओ की तुम कल मरने वाले हों सिखो इस तरह से की तुम्हे हमेशा जिन्दा रहना हैं  ।

39.दिल की कोई भाषा नहीं होती दिल- दिल से बात करता है ।

40.आप कभी भी यह नहीं समझ सकेंगे की आपके लिए कौन महत्त्वपूर्ण है जब तक की आप उन्हें वास्तव में खो नहीं देंगे ।

41. जीवन कुछ ऐसा जियो जैसे की तुम कल मरने वाले हो कुछ ऐसे सीखो जैसे कि तुम हमेशा के लिए जीने वाले हो  ।

42.जहाँ पवित्रता है, वहीं निर्भयता है ।

43.पहले वे आपको अनदेखा करते हैं तो वे आप पर हँसते हैं फिर वे आपसे लड़ते हैं फिर आप जीतते हैं  ।

44.इंसान हमेशा वो बन जाता है जो वो होने में वो यकीन करता है। अगर मैं खुद से यह कहता रहूँ कि मैं इस चीज को नहीं कर सकता, तो यह संभव है कि मैं शायद सचमुच में वो करने में असमर्थ हो जाऊं। और इसके विपरीत अगर मैं यह यकीन करूँ कि मैं ये कर सकता हूँ, तो मैं निश्चित रूप से उसे करने की क्षमता पा ही लूँगा, फिर भले ही शुरू में मेरे पास वो क्षमता ना रही हो ।

45.जहाँ होता प्रेम है, वह होता जीवन है ।

46.जब आपका सामना किसी विरोधी से हो तो उसे प्रेम से जीतें, अहिंसा से जीते  ।

47.दिल की कोई भाषा नहीं होती, दिल-दिल से बात करता है ।

48.आचरण रहित विचार, कितने भी अच्छे क्यों न हो, उन्हें खोटे-मोती की तरह समझना चाहिए ।

49.सभी छुपे दोषों का उपाय ढूढना कठिन होता है ।

50.पहले वो आप पर ध्यान नहीं देंगे, फिर वो आप पर हँसेंगे, फिर वो आप से लड़ेंगे, और तब आप जीत जायेंगे ।

52. मेहरबान दुसरो के न रहो, आत्मनिर्भर बनो खुश रहो ।

53. इंसान हमेशा वो बन जाता है जो वो होने में यकीन करता है । अगर मैं खुद से यह कहता रहूँ कि मैं इस चीज को नहीं कर सकता, तो यह संभव है कि मैं शायद सचमुच में वो करने में असमर्थ हो जाऊं। और इसके विपरीत अगर मैं यह यकीन करूँ कि मैं ये कर सकता हूँ, तो मैं निश्चित रूप से उसे करने की क्षमता पा ही लूँगा, फिर भले ही शुरू में मेरे पास वो क्षमता ना रही हो ।

 

Rate Now

Leave a Comment