पर्यायवाची शब्द क्या होते है ? विलोम शब्द और पर्यायवाची शब्द में अंतर l

Paryayvachi Shabd in Hindi

पर्यायवाच शब्दों – (छ)

छतरी- छत्र, छाता, छत्ता।
छली- छलिया, कपटी, धोखेबाज।
छवि- शोभा, सौंदर्य, कान्ति, प्रभा।
छानबीन- जाँच, पूछताछ, खोज, अन्वेषण, शोध, गवेषण।
छैला- सजीला, बाँका, शौकीन।
छँटनी- कटौती, छँटाई, काट-छाँट।
छटा- शोभा, सौंदर्य, छवि, सुंदरता, प्रकाश, झलक, आभा, चमक, खूबसूरती।
छल- दगा, दगाबाजी, ठगी, फरेब, कपट, धोखा, धूर्त्तता, धोखेबाजी, चकमा, कुटयोजना।
छाछ- मही, मठा, मठ्ठा, लस्सी, छाछी।
छाती- सीना, वक्ष, वक्षस्थल, उर, उरोज, कुच, पयोधर, वक्षस्थल।
छींटाकशी- ताना, व्यंग्य, फब्ती, कटाक्ष।
छुटकारा- मुक्ति, छूट, निस्तार, विमोचन, विमुक्ति, मोक्ष, मोचन, रिहाई, निजात।
छेरी- बकरी, छागी, अजा।
छोर- सीमा, पराकोटि, अत्यंत, अंत, नोक, कोर, किनारा, सिरा।
छलना- कपट करना, धोखा देना, चकमा देना, बेवकूफ बनाना, आँख में धूल झोंकना, परिहार करना, ठगना, उल्लू बनाना, वंचित करना, दगा देना।
छाप- ठप्पा, साँचा, मुहर, चिन्ह, निशान, असर, प्रभाव।
छाया- छाँह, छाँव, परछाई, प्रतिबिम्ब, प्रतिकृति, साया, प्रतिच्छाया।
छिछला- अल्पबुद्धि, अल्पमति, तुच्छ, ओछा, उथला, कम गहरा, हल्का।
छिछोरापन- ओछापन, क्षुद्रता, तुच्छता, लघुता, नीचता।
छिद्र- छेद, रंध्र, सूराख, बिल, गड्ढ़ा, कोटर।
छिन्न-भिन्न- टूटा-फूटा, तितर-बितर, बिखरा, छितराया हुआ, अस्त-व्यस्त।
छीछालेदर- दुर्गति, दुर्दशा, फजीहत, किरकिरी।
छुट्टी- अवकाश, फुर्सत, रुखसत, विश्राम, विराम, कार्यनिवृत।
छूट- मुक्ति, छुटकारा, निस्तार, सुविधा, सहूलियत, ढील, कटौती।
छोह- ममता, स्नेह, प्रेम, दया, कृपा, अनुग्रह।

पर्यायवाच शब्दों – (ज)

जल- मेघपुष्प, अमृत, सलिल, वारि, नीर, तोय, अम्बु, उदक, पानी, जीवन, पय, पेय।
जहर- गरल, कालकूट, माहुर, विष ।
जगत- संसार, विश्व, जग, जगती, भव, दुनिया, लोक, भुवन।
जीभ- रसना, रसज्ञा, जिह्वा, रसिका, वाणी, वाचा, जबान।
जंगल- विपिन, कानन, वन, अरण्य, गहन, कांतार, बीहड़, विटप।
जेवर- गहना, अलंकार, भूषण, आभरण, मंडल।
ज्योति- आभा, छवि, द्युति, दीप्ति, प्रभा, भा, रुचि, रोचि।
जहाज- पोत, जलयान।
जानकी- सीता, वैदही, जनकसुता, मिथिलेशकुमारी, जनकतनया, जनकात्मजा।
जंग- लड़ाई, संग्राम, समर, युद्ध।
जईफी- वृद्धावस्था, बुढ़ापा, बुजुर्गी।
जत्था- गुट, दल, समूह, टोली, गिरोह।
जनक- तात, बाप, पिता, बप्पा, बापू, वालिद।
जननी- माँ, माता, मम्मी, अम्मा, वालिदा।
जन्नत- स्वर्ग, सुरधाम, बैकुंठ, सुरलोक, हरिधाम।
जन्मांध- सूरदास, अंधा, आँधरा, नेत्रहीन।
जबह- वध, हत्या, कत्ल, खून।
जम्हूरियत- प्रजातंत्र, लोकतंत्र, लोकशाही, जनताशासन।
जमाई- दामाद, जामाता, जँवाई।
जमीन- धरती, भू, भूमि, पृथ्वी, धरा, वसुंधरा।
जय- जीत, फतह, विजय।
जरठ- वृद्ध, बुड्ढा, बूढ़ा।
जलाशय- तालाब, तलैया, ताल, पोखर, सरोवर।
जवान- तरुण, युवक, नौजवान, नौजवाँ, युवा।
जवानी- युवावस्था, यौवन, तारुण्य, तरुणाई।
जहन्नुम- नरक, दोजख, यमपुरी, यमलोक।
जहाज- पोत, बेड़ा, जलयान, जलपोत।
जहीन- बुद्धिमानी, अक्लमंद, मेधावी, मेधावान, तीक्ष्ण बुद्धि।
जाँघ- उरु, जानु, जघन, जंघा, रान।
जाई- बेटी, कन्या, पुत्री, लड़की।
जासूस- गुप्तचर, भेदिया, खुफिया।
जिंदगी- जिंदगानी, जीवन, हयात।
जिल्लत- अपमान, तिरस्कार, अनादर, तौहीन, बेइज्जती।
जिस्म- देह, बदन, शरीर, काया, वपु।
जीव- रूह, प्राण, आत्मा, जीवात्मा।
जीविका- रोजी-रोटी, रोजी, आजीविका, वृत्ति।
जुल- धोखा, फरेब, दगा, छल।
जुलाहा- बुनकर, कोली, कोरी।
जोहड़- तालाब, तलैया, तड़ाग, सरोवर, जलाशय।
ज्ञानी- विद्वान, सुविज्ञ, आलिम, विवेकी, ज्ञानवान।
ज्योत्स्ना- चाँदनी, चंद्रप्रभा, कौमुदी, जुन्हाई।
जंगम- अस्थायी, अस्थिर, चलनशील, गमनशील, चल, चलायमान, अस्थावर।
जँचना- फबना, सजना, अच्छा लगना, शोभा देना।
जगमगाता हुआ- दीप्त, चमकदार, प्रकाशमय, देदीप्यमान, आभासित, भासमान।
जगह- स्थान, स्थल, ठाँव, ठौर, अवस्थान, ठिकाना, मुकाम, पड़ाव, अवसर, मौका, स्थिति।
जगाना- सक्रिय बनाना, चेष्टायुक्त करना, प्रबुद्ध करना, चेतन बनाना, जागरूक करना, जागृत करना, उठाना।
जटिल- पेचीला, पेंचदार, उलझा हुआ, कठिन, विकट, मुश्किल, विषम।
जड़- निर्जीव, प्राणरहित, चेतनाशून्य, बेसुध, अचर, आधार, बुनियाद।
जड़ता- स्थिरता, गतिहीनता, आलस्य, सुस्ती, मूढ़ता, मंदबुद्धिता।
जन- लोक, लोग, प्रजा, सामान्य व्यक्ति, आदमी, सर्वसाधारण।
जनता- जनसमूह, जनसमुद्र, समुदाय, जमघट, भीड़, भीड़-भड़क्का, आमलोग।
जनसेवक- अधिसेवक, पदाधिकार, लोकसेवक, लोकाचारी।
जन्म- उत्पत्ति, उद्भव, प्रसूति, जीवन, आरम्भ, शुरुआत, श्रीगणेश।
जन्मजात- जन्मज, जन्मगत, सहज, वंशगत, स्वाभाविक, प्राकृत, प्राकृतिक, अकृत्रिम, असली, वास्तविक।
जब तक- यदा, जब, जिस समय में, जिस बीच में, की अवधि तक, के समय, इतने में, दौरान में।
जय-जयकार- अभिनंदन, शुभकामना, अभिवादन, प्रणाम, नमस्कार, स्वागत, हर्षध्वनि।
जल्दी- शीघ्रता, स्फूर्ति, फुर्ती, अभी, तुरंत, फौरन, शीघ्र।
जहरीला- जहर मिला, जहर भरा, विषैला, विष भरा, विषयुक्त, प्राणहारी।
जागरूक- प्रबुद्ध, सावधान, सचेत, खबरदार, चेतन, होशियार, चौकन्ना।
जादू- इंद्रजाल, माया, कौतुक, चमत्कार, वशीकरण, सम्मोहन।
जानकार- परिचित, विज्ञ, निपुण, कुशल, प्रवीण।
जानदार- सजीव, जीवंत, सप्राण, प्राणवान।
जानना- ज्ञान होना, इल्म होना, कुशल होना, ज्ञात होना, मालूम होना, अवगत होना, परिचित होना, पता होना, मालूम होना।
जानलेवा- प्राणान्तक, घातक, प्राणघातक, मारक।
जालसाजी- षड्यंत्र, कपट, जाल, धोखाधड़ी, ठगी।
जालिम- पाशविक, क्रूर, निर्दय, हिंसक, बर्बर, निष्ठुर, बेदर्द, बेरहम।
जिगर- कलेजा, यकृत, दिल, मन, साहस, हिम्मत, उत्साह।
जिज्ञासा- उत्कंठा, उत्सुकता, कौतूहल, कुतूहल, प्रबल, इच्छा।
जिद्दी- हठी, दुराग्रही, दृढ़प्रतिज्ञ, अदम्य, हठीला, धृष्ट, दुःसाहसी, ढीठ, गुस्ताख़।
जिम्मा- दायित्व, उत्तरदायी, जवाबदेही, जिम्मेवारी, उत्तरदायी।
जिम्मेदार- उत्तरदायी, उत्तरदेय, उत्तरदाता, जिम्मेवार, जवाबदेह।
जी- मन, दिल, चित्त, हिम्मत, जीवट, साहस।
जीत- जय, विजय, फतह।
जीव- प्राण, जान, आत्मा, प्राणी, प्राणधारी, देहधारी, देही।
जुटाना- जोड़ना, एकत्र करना, इकट्ठा करना, बटोरना, संग्रह करना।
जुलाब- रेचक, दस्तावर।
जूता- पदत्राण, उपानह, पादुका, पनही, चर्मपादुका।
जैसे- उसी तरह से, जिस तरह से, ज्यों ही, जिस प्रकार।
जोंक- रक्तपा, जलूका, जलाका, जलोका, जलौका।
जोकर- वैहासिक, विदूषक, ठिठोलिया, भाँड, मसखरा, हँसोड़।
जोखिम उठाना- आग से खेलना, आग में कूदना, अंगारों पर पैर रखना, तलवार की धार पर चलना, ओखली में सिर देना, साहसपूर्ण कार्य करना, संकट का सामना करना, खतरा मोल लेना।
जोर- बल, शक्ति, ताकत, ऊर्जा, वश, अधिकार, परिश्रम, मेहनत।
जोरदार- शक्तिशाली, शक्तिवान, बलशाली, ओजस्वी, प्रभावशाली, असरदार।
जोश- उन्माद, उत्साह, उमंग, उफान, झोंक, सरगर्मी।
जोशीला- सोत्साह, अत्युत्साही, उत्साहशील, उमंगी, उत्साही।
ज्ञान- बोध, इल्म, जानकारी, परिचय, विवेक, आत्मज्ञान।
ज्येष्ठ- जेठा, बड़ा, अग्रज।
ज्योतिषी- दैवज्ञ, गणक, भविष्यवक्ता, खगोलज्ञ।
ज्वाला- लपट, लौ, अग्निशिखा, ज्योति, शिखा, गर्मी, ताप, जलन।

पर्यायवाच शब्दों – (झ )

झरना- उत्स, स्रोत, प्रपात, निर्झर, प्रस्त्रवण।
झण्डा- ध्वजा, पताका, केतु।
झंझा- अंधड़, आँधी, बवंडर, झंझावत, तूफान।
झाँसा- दगा, धोखा, फरेब, ठगी।
झींगुर- घुरघुरा, झिल्ली, जंजीरा, झिल्लिका।
झंझट- झमेला, बखेड़ा, पचड़ा, प्रपंच, कलह, झगड़ा-झंझट, बवंडर, बवाल।
झगड़ा- कलह, तकरार, कहासुनी, वैमत्य, मतभेद, खटपटा, टंटा, लड़ाई, विवाद, विरोध, संघर्ष।
झगड़ालू- युद्धप्रिय, कलही, कलहप्रिय, फ़सादी, लड़ाका, दंगाई।
झगड़ा- कलह, तकरार, कहासुनी, वैमत्य, मतभेद, खटपटा, टंटा, लड़ाई, विवाद, विरोध, संघर्ष।
झटकना- छीनना, मार लेना, लूट लेना, हथिया लेना, ऐंठना।
झटपट- वेगपूर्ण, तीव्रता से, तुरंत, जल्दी से, तेजी से।
झड़प- झंझट, झगड़ा, तू-तू-मैं-मैं, बखेड़ा, हाथापायी, तकरार।
झपकी- निद्रालुता, तन्द्रा, हल्की, नींद, उँघाई, उनींदापन।
झरोखा- वातायन, गवाक्ष, खिड़की, दरीचा, रोशनदान।
झाँई- प्रतिबिंब, परछाई, बिंब, प्रतिच्छाया, झलक, धोखा, छल, कपट।
झिझक- दुविधा, अनिर्णय, असमंजस, संकोच, हिचकिचाहट, आगा-पीछा।
झींसी- फुहार, जलकण।
झुंड- समूह, गिरोह, समुदाय, जत्था, गण, भीड़, दल, जमघट, टुकड़ी।
झुकाव- प्रवृत्ति, रुझान, रुख।
झूठ- असत्य, मिथ्या, मृषा, अनृत।
झूठा- मिथ्या, अप्रकृत, अवास्तव, नकली, बनावट, कल्पित, कूट, दिखावटी, असत्यवादी, मिथ्यावादी।
झूमना- काँपना, हिलना, डोलना, लहराना, झोंका, खाना, झूलना।
झूला- हिंडोला, पालना, झूलना।
झेंपना- लज्जित होना, सकुचाना, लजाना, शरमाना, शर्मिन्दा होना।
झोंकना- फेंकना, ढकेलना, गिराना, डालना, घुसेड़ना।
झोंपड़ी- पर्णकुटी, पर्णशाला, कुटी, कुटिया, कुटीर, झुग्गी।

पर्यायवाच शब्दों – (ट )

टंकार- टंकोर, ध्वनि, झनकार।
टकराना- टक्कर खाना, भिड़ना, चोट खाना, लड़ जाना, ठोकर खाना।
टका- सिक्का, रुपया, धन, द्रव्य।
टक्कर- ठोकर, मुठभेड़, भिडंत, समाघात, धक्का, संघर्ष, बराबरी, सामना, घाटा, हानि।
टपकना- चूना, झरना, रिसना, स्रावित होना।
टहलना- सैर-सपाटा, घूमना, भ्रमण करना, चलना, फिरना।
टाँकना- लगाना, नत्थी करना, जोड़ना, सिलाई करना, अटकाना, जोड़ना।
टाँका- सिलाई, सीवन, चिप्पी, जोड़।
टाँग अड़ाना- हस्तक्षेप करना, बेजा पैर फैलाना, रोड़ा अटकाना, विघ्न डालना, प्रतिरोध उत्पन्न करना।
टालना- अनसुनी करना, बहाना बनाना, बात बनाना, टालमटोल करना।
टालमटोल- हीला-हवाला, आनाकानी, बहाना।
टिकट- प्रवेशपत्र, प्रमाणपत्र, अधिकार पत्र।
टिकना- बसना, रहना, ठहरना, रुकना, थमना, अड़ना।
टिकाऊपन- अनश्वरत्व, स्थिरता, चिर-स्थायित्व, स्थायित्व, टिकाव।
टिका हुआ- अवलंबित, सहारा लिए हुए।
टिमटिमाना- झिलमिलाना, चमचमाना, जगमगाना।
टीकाकार- भाष्यकार, व्याख्याता, कुंजीकार, वृत्तिकार, वृत्तकार, व्याख्याकार, समालोचक।
टीमटाम- ठाठबाट, धूमधाम, दिखावा, बनाव, सिंगार, प्रदर्शन।
टीस- शूल, पीड़ा, वेदना, कसक, चुटकी, ऐंठन, चुभन, कष्ट, दर्द, तकलीफ।
टुकड़ा- अंश, खंड, भाग, हिस्सा, विभाग।
टूटा- खंडित, भग्न, क्षत-विक्षत, दुबला, कमजोर, निर्धन, दीन, गरीब।
टेढ़ा- कुटिल, टेढ़ा-मेढ़ा, घुमावदार, अटपटा, पेंचीदा, जटिल, कठिन, मुश्किल।
टोकरी- झाँपी, झपोली, डलिया, चँगेरी, खाँची।
टोला- मुहल्ला, टोली, पुर, कूचा, उपनगरी, कालोनी।
टोहना- टोह लेना, पता लगाना, खोजना, ढूँढ़ना, अनुसंधान करना।
टक्कर- मुठभेड़, लड़ाई, मुकाबला।
टहलुआ- नौकर, सेवक, खिदमतगार।
टाँग- पाँव, पैर, टंक।
टीका- तिलक, चिह्न, दाग, निशान, प्रभावशाली व्यक्ति, युवराज, व्याख्या, टिप्पणी, धब्बा।
टोना- टोटका, जादू, यंत्रमंत्र, लटका।
टंटा- झगड़ा, लफ़ड़ा, पचड़ा, झंझट, उपद्रव, दंगा, फ़साद, तकरार, प्रपंच।
टसुआ- अश्क, अश्रु, आँसू।
टहनी- डाल, डाली, वृंत, उपशाखा, प्रशाखा।
टहल- सेवा, परिचर्या, खिदमत, सुश्रूषा।
टेर- बुलावा- गुहार, पुकार, आह्वान।

पर्यायवाच शब्दों – (ठ )

ठंडा- शीतल, सर्द, शांत, गम्भीर, सुस्त, मंद, धीमा, उदासीन, भावहीन।
ठगना- छलना, धोखा देना, चकमा देना, भुलावा, लूटना, लूट लेना, चूना लगाना, ऐंठना।
ठगी- कपट, मायाजाल, छल, बेईमानी, धोखेबाजी, उचक्कापन, जालासाजी।
ठसक- नखर, चोंचला, मान, अभिमान, शान, गर्व, घमंड।
ठहरना- रुकना, थमना, टिकना, विराम, स्थित होना, प्रतीक्षा करना, इंतजार करना।
ठाट- तड़क-भड़क, शोभा, सजावट, आयोजन, तैयारी, व्यवस्था, प्रबंध, झुंड, दल, समूह।
ठिकाना- स्थान, जगह, अड्डा, आयोजन, प्रबंध, व्यवस्था।
ठिठक जाना- ठहर जाना, सहमना, रुकना, ठिठकना।
ठिठुरना- शीत लगना, काँपना, थरथराना, सिकुड़ना।
ठिठोली- चुहल, फबती, व्यंग्य, मजाक, उपहास, दिल्लगी।
ठीक-ठीक- पूर्णरूपेण, पूरी तरह से, सही तौर पर, सीधे-सीधे तौर पर, भली प्रकार से, ठीक तरह से।
ठुकराना- तिरस्कार करना, अपमान करना, अवज्ञा करना, अस्वीकार करना, नामंजूर करना, लात मारना, असहमति प्रकट करना।
ठेका- निविदा, प्रस्ताव, टेण्डर, संविद, जिम्मा, इजारा, पट्टा।
ठेलना- खिसकाना, बढ़ाना, ढकेलना, धकियाना, सरकाना।
ठोकर- धक्का, टक्कर, आघात, चोट, ठेस।
ठौर- स्थान, जगह, ठिकाना, अवसर, मौका।
ठंड- ठंड, शीत, सर्दी।
ठग- छली, छलिया, फ़रेबी, वंचक, धूर्त, धोखेबाज।
ठाँव- स्थान, जगह, ठिकाना।
ठिंगना- बौना, वामन, नाटा।
ठीक- उपयुक्त, उचित, मुनासिब।
ठेठ- निपट, निरा, बिल्कुल।
ठटरी- कंकाल, पंजर, अस्थिपंजर, ठठरी।
ठठोली- मजाक, परिहास, ठट्ठा, ठिठोली, दिल्लगी।
ठन-ठन गोपाल- निर्धन, गरीब, दरिद्र, अकिंचन।
ठहाका- कहकहा, अट्टहास, खिलखिलाना।
ठाकुरद्वारा- मंदिर, देवालय, शिवाला, देवस्थान।
ठाली- बेरोजगार, ठलुआ, बेकार।
ठिल्ली- गगरी, गागर, घड़ा, मटकी।
ठुड्डी- ठुड्डी, हनु, चिबुक, ठोड़ी।
ठेस- चोट, आघात, धक्का।

पर्यायवाच शब्दों – (ड )

डकारना- डकार लेना, गरजना, दहाड़ना।
डगमगाना- डावाँडोल होना, अस्थिर होना, काँपना, हिलना, लड़खड़ाना, थरथराना, विचलित होना।
डफला- डफ, चंग, खंजरी।
डब्बा- डिब्बा, ढक्कनदार, बर्तन, केस, कम्पार्टमेन्ट।
डरना- भयभीत होना, त्रास पाना, आतंकित होना, भय खाना, त्रस्त होना।
डरपोक- भीरु, भयभीत, त्रस्त, कायर, कापुरुष, आतंकित करना।
डराना- आतंकित करना, भयभीत करना, हतोत्साहित करना, भयातुर करना, थर्रा देना।
डरावना- भयावह, भयंकर, भयानक, भयप्रद, विकराल, आतंकपूर्ण, विकट, खौफनाक, खतरनाक।
डरा हुआ- आशंकित, आतंकित, भयभीत, भयग्रस्त, त्रस्त।
डसना- डंक मारना, डाँस मारना, काटना, दंश।
डाँटना- तिरस्कार करना, फटकारना, भला-बुरा कहना, आड़े हाथों लेना, डपटना, धुतकारना, धमकी, धिक्कार, लताड़ना, झाड़ना।
डाँवाडोल- अस्थिर, गतिशील, परिवर्तनशील, विचलित, डगमगाता हुआ।
डाका डालना- अपहरण, लूटमार करना, लूटना, डाकाजनी।
डायन- डाकिनी, पिशाचनी, भूतनी।
डायरी- दिनचर्या, रोजनामचा, दैनिकी, दैनंदिनी।
डाह- जलन, दाह, कुढ़न, ईर्ष्या।
डींग मारना- डींग हांकना, बड़ी-बड़ी बातें करना, गप्प मारना, लंबी-चौड़ी मारना।
डील-डौल- रूप, स्वरूप आकृति, आकार, ढाँचा, बनावट, कदकाठी, लम्बाई-चौड़ाई, शरीर रचना, देह, विन्यास, शारीरिक गठन।
डुबकी लगाना- अवगाहन करना, गोता लगाना।
डुबाना- जल समाधि देना, निमग्न करना, डुबो देना, प्लावन करना, बुड़ाना।
डूबना- समाना, डुबकी लगाना, गोता लगाना, मग्न होना, तल्लीन होना, बर्बाद होना, नष्ट होना।
डेरा- ठिकाना, ठहराव, मुकाम, खेमा, घर, निवास, वास, वासस्थान।
डोरा- धागा, डोर, तागा, सूत्र, सूत, ताँत, सूता, रस्सी।
डोरी- डोर, रस्सी, सुतली, ताँत, जेवरी।
डंडा- सोंटा, छड़ी, लाठी।
डाली- भेंट, उपहार।
डंका- नगाड़ा, भेरी, दुंदभि, धौंसा।
डंस- मच्छर, मस, डाँस, मच्छड़।
डगर- राह, रास्ता, पथ, मार्ग, पंथ।
डर- आतंक, धाक, रौब, त्रास, खौफ, भय, दहशत, भीति।
डोली- पालकी, डोला, शिविका, सवारी, मियाना। डाकू- दस्यु, लुटेरा, डकैत, बटमार, राहजन।
डाल- डाली, टहनी, वृंत, शाखा।
डाह- द्वेष, ईर्ष्या, जलन, कुढ़न।

पर्यायवाच शब्दों – (ढ)

ढब- ढंग, रीति, तरीका, ढर्रा।
ढाँचा- पंजर, ठठरी।
ढीला-ढाला- शिथिलता, आलसी, सुस्ती, अतत्परता।
ढूँढ- खोज, तलाश।
ढँग- रीति, रचना, बनावट, ढाँचा, युक्ति, उपाय, आचरण, व्यवहार, चाल-ढाल, पहचान, अवस्था, दशा, तौरतरीका।
ढिंढोरा- मुनादी, ढँढोरा, डुगडुगी, डौंड़ी।
ढिग- समीप, निकट, पास, आसन्न।
ढिबरी- दीया, चिराग, डिबिया, लैंप।
ढीठ- धृष्ट, उद्दंड, निर्लल्ज, हठी, जिद्दी, मुँहजोर, दुस्साहसी।
ढोंग- पाखंड, प्रपंच, कपट, छल, छिपाव, ढोंगबाजी।
ढोंगी- पाखंडी, धूर्त, छली, रंगा, सियार, बगुलाभगत।
ढोल- ढोलकी, ढोलक, पटह, प्रणव।
ढहाना- उद्ध्वस्त करना, खंडकरण करना, तोड़-फोड़ देना, गिराना, गिरवाना।
ढाढ़स- आश्वासन, धीरज, तसल्ली, दिलासा।
ढिठाई- असभ्यता, निर्लज्जता, हठ, जिद्द, जिद्दीपन।
ढिलाई- ढीलापन, सुस्ती, आलस्य।
ढेर- राशि, पिंड, पुंज, बहुत, ज्यादा, अधिक।
ढोर- चौपाया, मवेशी।

पर्यायवाच शब्दों – (त)

तालाब- सरोवर, जलाशय, सर, पुष्कर, ह्रद, पद्याकर , पोखरा, जलवान, सरसी, तड़ाग।
तोता- सुग्गा, शुक, सुआ, कीर, रक्ततुण्ड, दाड़िमप्रिय।
तरुवर- वृक्ष, पेड़, द्रुम, तरु, विटप, रूंख, पादप।
तलवार- असि, कृपाण, करवाल, खड्ग, शमशीर चन्द्रहास।
तरकस- तूण, तूणीर, त्रोण, निषंग, इषुधी।
तामरस- कमल, पंकज, सरसिज, नीरज, पुण्डरीक, इन्दीवर।
तिमिर- तम, अंधकार, अंधेरा, तमिस्त्रा।
तंगदस्त- तंगहाल, गरीब, फटेहाल, निर्धन।
तंज- कटाक्ष, ताना, व्यंग्य, फबती, छींटाकशी।
तंदुल- धान, चावल, अक्षत, चाउर।
तकदीर- किस्मत, मुकद्दर, नसीब, भाग्य, प्रारब्ध।
तट- कगार, किनारा, कूल, तीर, साहिल।
तटिनी- नदी, सरिता, दरिया, सलिला, तरंगिणी।
तड़ाग- जलाशय, सरोवर, तालाब, पोखर।
तड़ित- विद्युत, बिजली, दामिनी, सौदामिनी, गाज।
तथागत- बुद्ध, सिद्धार्थ, बोधिसत्व, गौतम।
तदबीर- उपाय, ढंग, रीति, विधि, तरीका, युक्ति।
तन- काया, देह, शरीर, बदन, तनु।
तपस्वी- तापस, मुनि, संन्यासी, व्रती, योगी, साधू, बैरागी।
तपेदिक- टी.बी., दिक, यक्ष्मा, राजयक्ष्मा।
तबाह- ध्वस्त, नष्ट, बरबाद।
तम- अँधेरा, अंधकार, तिमिर, अँधियारा।
तमा- रजनी, रात, निशा, रात्रि।
तमारि- सूरज, सूर्य, दिवाकर, दिनकर, आदित्य, भानु, भास्कर।
तरनी- नौका, नाव, किश्ती, नैया।
तरुण- युवक, युवा, जवान, नौजवान।
तरुणाई- युवावस्था, यौवन, जवानी, जोबन।
तहजीब- संस्कृति, सभ्यता, तमद्दुन।
तिजारत- व्यवसाय, व्यापार, सौदागरी।
तिरिया- स्त्री, औरत, महिला, ललना।
तीमारदारी- सेवाटहल, परिचर्या, सेवासुश्रूषा।
तुरंग- घोड़ा, अश्व, हय, घोटक, तुरग।
तुला- तराजू, काँटा, धर्मकाँटा।
त्वचा- चर्म, चमड़ा, चमड़ी, खाल।
तीर- शर, बाण, विशिख, शिलीमुख, अनी, सायक।
तंग- दुःखी, परेशान, हैरान, धनहीन, गरीब, दरिद्र।
तंतु- सूत, डोरा, धागा, सूत्र, डोर, ताँत।
तंद्रा- अर्धनिद्रा, झपकी, आलस्य, थकावट।
तंबू- शामियाना, डेरा, छोलदारी, खेमा।
तकरार- विवाद, लड़ाई, झगड़ा, कहासुनी, कटुवार्ता, संघर्ष।
तकलीफ- कष्ट, दुःख, पीड़ा, क्लेश, दर्द, संकट, विपत्ति, मुसीबत, बीमारी।
तटस्थ- उदासीन, निरपेक्ष, अलग, निष्पक्ष।
तत्पर- उद्यत, कटिबद्ध, मुस्तैद, तैयार।
तनिक- जरा सा, थोड़ा सा, तिल भर, चुटकी भर, रत्ती भर।
तनु- दुबला, पतला, अल्प, थोड़ा, कम, देह, शरीर, तन।
तन्मय- लीन, तल्लीन, ध्यानमग्न, मग्न।
तन्मयता- एकाग्रता, तल्लीनता, ध्यानस्थ, लगन।
तरंग- लहर, ऊर्मि, उल्लोल, हिलोर, कंपन, मौज, लहर।
तरकारी- शाक, सालन, सब्जी।
तरी- गीलापन, आर्द्रता, नमी, ठंडक, शीतलता, सर्दी।
तरीका- विधि, ढंग, रीति, युक्ति, चाल, व्यवहार, आचरण।
तसल्ली- दिलासा, ढाढ़स, सांत्वना।
ताकना- देखना, घूरना, निहारना।
तागा- धागा, सूत, डोरा।
तात्पर्य- अभिप्राय, अर्थ, मतलब, आशय, हेतु।
तादाम्य- ऐकात्म्य, ऐक्य, एकात्मता, अभिन्नता, समरूपता, तल्लीनता।
तान- खींच, फैलाव, विस्तार, लय, स्वर, सुर।
ताना- व्यंग्य, उपहास, खिल्ली, उलाहना, सूत।
तानाशाह- अधिनायक, एकाधिकारी, निरंकुश, शासक।
तारा- नक्षत्र, सितारा, तारक, किस्मत, भाग्य, ग्रह।
तारीख- तिथि, दिनांक, मिति।
तालमेल- सामंजस्य, समध्वनि, स्वरसंगति, स्वरैक्य।
तालिका- सूची, सारणी, सूचीपत्र।
तिरस्कार- अपमान, उपेक्षा, अनादर, फटकार, डाँट।
तीखा- तीता, कडुवा, कटु, तेज।
तीव्र- तेज, तीक्ष्ण, प्रखर, कटु, कडुवा, तीता।
तुंग- ऊँचा, उन्नत, उग्र, तीव्र, प्रधान, मुख्य।
तुच्छ- खोखला, सारहीन, निःसार, अल्प, थोड़ा, नीच, घटिया, दो कौड़ी का, दुष्ट।
तूफान- आंधी, झंझा, चक्रवात, तीव्रगति।
तेज- चमक, प्रकाश, जोर, बल, प्रताप, प्रभाव।
तेजस्वी- कांतिमान, तेजयुक्त, तेजवान, प्रकाशमय, तेजोमय, ज्योतिर्मय, आलोकमय, प्रभावशाली।
तैयार- उद्यत, तत्पर, प्रस्तुत, कटिबद्ध, मुस्तैद, उपस्थित, सन्नद्ध, उत्सुक, उन्मुख।
तोता- शुक, सूआ, कीर, प्रियदर्शन, सुग्गा, मियाँमिट्ठु।
तोष- तृष्टि, संतोष, तृप्ति, प्रसन्नता, आनंद, खुशहाली।
त्योहार- उत्सव, पर्व, समारोह।

Pages: 1 2 3 4 5 6 7 8 9

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *