10 Lines on Charity Begins at Home in Hindi

परोपकार घर से शुरू होती है पर 10 लाइन हिंदी अंग्रेजी और मराठी में !

आज हम Charity Begins at Home पर 10 Lines का निबंध साझा कर रहे हैं। यह लेख उन छात्रों की मदद कर सकता है जो हिंदी में Charity Begins at Home के बारे में जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं ।

यह निबंध बहुत ही सरल और याद रखने में आसान है। इस निबंध का स्तर मध्यम है इसलिए कोई भी छात्र इस विषय पर लिख सकता है। यह लेख आम तौर पर Class : 1, 2, 3 4 के विद्यार्थियों के लिए लिखी गई है।

10 /5 Lines on Charity Begins at Home in Hindi For Class 1 To 3

 

 

10 Lines on Charity Begins at Home in Hindi

 

1. यह एक पुरानी कहावत है जिसका तात्पर्य यह है कि हमें पहले उन लोगों पर ध्यान देना चाहिए जो हमारे सबसे करीब हैं और फिर बाहर जाकर दूसरों की मदद करनी चाहिए।

2. एक व्यक्ति जो दूसरों की मदद करने का दावा करता है, लेकिन अपने परिजनों की जरूरतों को नजरअंदाज करता है, वह बहुत अच्छा काम नहीं कर रहा है।

3. दूसरों की मदद करने से शांति और खुशी मिलती है, लेकिन अगर कोई अपना परिवार पीड़ित है और वह दूसरों की मदद कर रहा है तो वह सच्चा सुख हासिल नहीं कर सकता।

4. घर पर शुरू होने वाला चैरिटी एक सुंदर अभिव्यक्ति है जो किसी भी चीज से पहले किसी के परिवार की जरूरतों को प्राथमिकता देने पर जोर देती है।

5. कोई व्यक्ति जो अपने माता-पिता की उपेक्षा करता है और वृद्धाश्रम में समय व्यतीत करता है, वह सराहना के लायक काम नहीं करता है।

6. उसे पहले अपने माता-पिता और परिवार के अन्य सदस्यों को समय देना चाहिए और फिर बाहर जाकर दूसरों की मदद करनी चाहिए।

7.  हमें घर पर अपनी सभी जिम्मेदारियों को पूरा करना चाहिए और फिर धर्मार्थ कार्यों में शामिल होना चाहिए।

8. एक व्यक्ति की पहली जिम्मेदारी उसका परिवार है। अगर वह अपने परिवार की जरूरतों को नजरअंदाज करते हुए चैरिटी में लिप्त रहता है, तो उसे अच्छा इंसान नहीं माना जा सकता।

9. अगर भगवान ने हमें पर्याप्त दिया है, तो हमें जरूरतमंद लोगों के साथ अपना आशीर्वाद साझा करके उन्हें धन्यवाद देना चाहिए।

10.  हमें पहले खुद की और अपने करीब वालों की मदद करनी चाहिए तभी हम समाज का भला कर पाएंगे।


10 /5 Lines on Charity Begins at Home in English For Class 1 To 4

 

1. Charity begins at home it is a true saying as someone that cannot love her/his family then how can that person love someone else.

2. First, we need to learn to care and love our family wholeheartedly then we can shower love to the outside world.

3. It is a one-way act where an individual gives and asks for nothing in return.

4. We forget that true happiness is beyond the definitions of owning and possessing .

5. It is the spiritual consciousness of defining various moments in our lives with love, grace, and gratitude.

6. People may appreciate him but is he bringing happiness home? No!

7-  Compassion and empathy shouldn’t be reserved for the ones we know.

8. The proverb means how we must always put our family’s needs and requirements before anyone else’s.

9. Before we preach about anything, we should make sure we follow it ourselves.

10. Home is the first place where the child’s character and personality are developed and it plays a major role in making them charitable.


10 Lines on Charity Begins at Home in Marathi For Class 1 To 3

 

1.एक जुनी म्हण आहे ज्याचा अर्थ असा आहे की आपण प्रथम आपल्या जवळच्या लोकांकडे लक्ष दिले पाहिजे आणि नंतर बाहेर जाऊन इतरांना मदत केली पाहिजे.

2. जी व्यक्ती इतरांना मदत करण्याचा दावा करते, परंतु त्यांच्या नातेवाईकांच्या गरजांकडे दुर्लक्ष करते, ती फार चांगले काम करत नाही.

3. इतरांना मदत केल्याने शांती आणि आनंद मिळतो, परंतु जर त्याचे कुटुंब दुःखी असेल आणि तो इतरांना मदत करत असेल तर खरा आनंद मिळू शकत नाही.

4. घरापासून सुरू होणारी धर्मादाय ही एक सुंदर अभिव्यक्ती आहे जी इतर कोणत्याही गोष्टींपूर्वी एखाद्याच्या कुटुंबाच्या गरजांना प्राधान्य देण्यावर जोर देते.

5.जो कोणी आपल्या आईवडिलांकडे दुर्लक्ष करतो आणि वृद्धाश्रमात वेळ घालवतो तो कौतुकास पात्र काम करत नाही.

6. त्याने आधी आई-वडील आणि कुटुंबातील इतर सदस्यांना वेळ द्यावा आणि मग बाहेर जाऊन इतरांना मदत करावी.

7. घरातील सर्व जबाबदाऱ्या आपण पार पाडल्या पाहिजेत आणि मगच सेवाभावी कार्यात रमले पाहिजे.

8. माणसाची पहिली जबाबदारी त्याच्या कुटुंबाची असते. जर तो आपल्या कुटुंबाच्या गरजांकडे दुर्लक्ष करून धर्मादाय करत असेल तर त्याला एक चांगला माणूस मानता येणार नाही.

9. जर देवाने आपल्याला पुरेसे दिले असेल तर आपण आपले आशीर्वाद सामायिक करून गरजूंचे आभार मानले पाहिजेत.

10. आपण प्रथम आपली आणि आपल्या जवळच्या लोकांना मदत केली पाहिजे, तरच आपण समाजाचे भले करू शकू.

Cover All Topics Here – 10 Lines in Hindi

More 10 Lines

10 Lines on Diwali in Hindi !
10 Lines on Holi in Hindi !
10 Lines on New Year in Hindi !
10 Lines on 15 August in Hindi !
10 Lines on Republic Day in Hindi !
10 Lines on Raksha Bandhan in Hindi !
10 Lines on Ganesh Chaturthi in Hindi !
10 Lines on My Teacher in Hindi !
10 Lines on Basant Panchami in Hindi !
10 Lines on mahatma Gandhi in Hindi !
10 Lines on Cow in Hindi !
10 Lines on My School in Hindi !
10 Lines on Tajmahal in Hindi !
10 Lines on Guru Purnima in Hindi !
10 Lines on Dog in Hindi !
10 Lines on Camel in Hindi !
10 Lines on My Father in Hindi !
10 Lines on My Mother in Hindi !
Rate Now

Leave a Comment

Your email address will not be published.

Pin It on Pinterest

Scroll to Top