रंगों के प्रकार और उनकी विशेषता !

हमारे जीवन में रंगों का काफी महत्व है. बिना रंग के हमारे जीवन के कल्पना हम नही कर सकते.  हम अपने चारों तरफ अनेक प्रकार के रंगों से प्रभावित होते हैं। रंग, मानवी आँखों के वर्णक्रम से मिलने पर छाया सम्बंधी गतिविधियों से उत्पन्न होते हैं।

रंगों से हमें विभिन्न स्थितियों का पता चलता है। रंगों की उत्पत्ति का सबसे प्राकृतिक स्रोत सूर्य का प्रकाश है। सूर्य के प्रकाश से विभिन्न प्रकार के रंगों की उत्पत्ति होती है।

प्रिज़्म की सहायता से देखने पर पता चलता है कि सूर्य सात रंग ग्रहण करता है जिसे सूक्ष्म रूप या अंग्रेज़ी भाषा में VIBGYOR और हिन्दी में “बैं जा नी ह पी ना ला” कहा जाता है।

मुख्य रूप से रंगों को तीन भागो में विभाजित किया गया है

  • प्राथमिक रंग या मूल रंग
  • द्वितीयक रंग
  • विरोधी रंग

प्राथमिक रंग या मूल रंग : प्राथमिक रंग या मूल रंग वे है जो किसी मिश्रण के द्वारा प्राप्त नहीं किये जा सकते हैं। प्राथमिक रंगों के मिश्रण से सभी रंग बनाये जा सकते हैं। प्राथमिक रंग प्रकाश के वे रंग होते है जिन्हें समान अनुपात में मिलाने पर श्वेत प्रकाश आता है। ये रंग निम्न है – लाल + हरा + नीला = सफ़ेद

द्वितीयक रंग : द्वितीयक रंग वे रंग होते है जो दो प्राथमिक रंगो के मिश्रण से प्राप्त किये जाते हैं। द्वितीयक रंग रानी, पीकॉक नीला व पीला है।

जैसे – लाल + नीला → रानी हरा + नीला → पीकॉक नीला लाल + हरा → पीला भाग

इन्हें दो भागो में विभाजित किया जा सकता है – गर्म रंग ठंडे रंग जिन रंगो में लाल रंग का प्रभाव माना जाता है उन्हें गर्म रंग कहा जाता है। गर्म रंग निम्न है – पीला लाल नारंगी बैंगनी जिन रंगो में नीले रंग का प्रभाव माना जाता है उन्हें ठंड़े रंग कहा जाता है। ठंड़े रंग निम्न है – नीलमणी या आसमानी समुद्री हरा धानी या पत्ती हरा

विरोधी रंग : विरोधी रंग- प्राथमिक व द्वितीयक रंगों के मिश्रण से जो रंग बनते है उन्हें विरोधी रंग कहा जाता है। आस्टवाल्ड वर्ण चक्र में प्रदर्शित किये गये आमने सामने के रंग विरोधी रंग कहलाते हैं।

जैसे – नीले का विरोधी रंग पीला, नारंगी का आसमानी व बैंगनी का विरोधी रंग धानी ।

तो चलिए अब हम रंगों के नाम (Hindi & English ) और उनकी विशेषता जान लेते है साथ के साथ हम आज आपको किस रंग के मिलाप से कोनसा रंग बनता है ये भी बतायंगे

Colours Name in Hindi and English – 30+ रंगों के नाम हिंदी में

1.

English NameHindi NameType
Blackकाला (Kaala)प्राथमिक रंग

काले रंग की विशेषता

काला रंग सभी रंगों में प्रधान रंग माना जाता है। यह सभी रंगों के सम्मिश्रण से तैयार रंग है, जो अन्य रंगों की सत्ता को नकारता है तथा विमुखता को व्यक्‍त करता है। काला रंग प्रतिशोध, घृणा तथा द्वन्द की ओर संकेत करता है।

2.
English NameHindi NameType
Redलाल (Laal)प्राथमिक रंग

लाल रंग की विशेषता

लाल रंग को रक्त रंग भी कहा जाता है, इसका कारण रक्त का रंग लाल होना है। लाल वर्ण प्रकाश की सर्वाधिक लम्बी तरंग दैर्घ्य वाली रोशनी या प्रकाश किरण को कहते हैं। इसका तरंग दैर्घ्य लगभग 6200 Å से 7800 Å तक तथा इसकी आवृति 3.75 – 4.84 होती है।

3.
English NameHindi NameType
Greenहरा (Hara)प्राथमिक रंग

हरा रंग की विशेषता

आंखों को सुकून देने वाला हरा रंग प्रकृति का प्रतीक है। राष्ट्रीय ध्वज तिरंगे में हरा रंग को मान्यता दी गयी है। हरा रंग प्रकृति से संबंध और संपन्नता दर्शाता है । हरा एक प्राथमिक रंग है। इसकी आवृति 5.19 – 6.01 तथा तरंगदैर्ध्य विस्तार 5000 Å से 5780 Å है।

4.
English NameHindi NameType
Blueनीला (Neela)प्राथमिक रंग

नीला रंग की विशेषता

गहरे नीले रंग को अंग्रेज़ी भाषा नेवी ब्लू कहा जाता है। इसे नौसेना नीला रंग भी कहते हैं। गहरा नीला नीले रंग की गहरी छाया है। नौसेना की वर्दी के रंग का होने के कारण इसका नाम नेवी ब्लू पड़ा। यह सन् 1748 से प्रचलन में है, और अब तो प्रायः सभी देशों की नौसेनाओं में यही रंग प्रयुक्त होता है।

5 .
English NameHindi NameType
Yallowपिला (Pila)द्वितीयक रंग

पिला रंग की विशेषता

पीला रंग शुद्ध और सात्विक प्रवृत्ति का परिचायक है। यह सादगी और निर्मलता का भी प्रतीक है। सृष्टि के पालनकर्ता भगवान विष्णु को भी पीला रंग प्रिय है। पीला रंग धारण करने से हमारी सोच सकारात्मक होती है। यह हमारे सृजन का भी प्रतीक है। यह हमें परोपकार करने की प्रेरणा देता है।

6 .
English NameHindi NameType
Pinkगुलाबी (Gulabi)द्वितीयक रंग

गुलाबी रंग की विशेषता

  • गुलाबी एक द्वितीयक रंग है।
  • यह लाल रंग का परिवर्तन रंग है।
  • गुलाबी रंग लाल रंग में श्वेत रंग मिलाने से प्राप्त होता है।

7 .
English NameHindi NameType
Brownभूरा (bhura)विरोधी रंग

भूरा रंग की विशेषता

भूरा रंग वह रंग हैं जो लाल, नारंगी एवं पीले रंग के गहरी छाया से प्राप्त होता है।

8 .
English NameHindi NameType
Purpleबैंगनी (Bengni)द्वितीयक रंग

बैंगनी रंग की विशेषता

बैंगनी रंग एक सब्जी़ बैंगन के नाम पर रखा हुआ नाम है। अँग्रेजी़ में इसे वॉय्लेट (voilet) कहते हैं, जो कि इसी नाम के फूल से रखा है। इसकी तरंग दैर्घ्य 3800 Å से 4460 Å होती है। जिसके बाद इंडिगो रंग होता है।

9 .
English NameHindi NameType
Greyग्रे (धुमैला)द्वितीयक रंग

धुमैला रंग की विशेषता

ग्रे काले और सफेद रंग के बीच एक मध्यवर्ती रंग है। यह एक तटस्थ या ऐक्र्रामिक रंग है, जिसका अर्थ है कि यह “रंग रहित” रंग है। यह एक बादल से ढके आसमान, राख और सीसा का रंग है।

10 .
English NameHindi NameType
Orangeनारंगीद्वितीयक रंग

नारंगी रंग की विशेषता

संन्यासी नारंगी (भगवा) वस्त्र पहनते हैं। नारंगी रंग लाल और पीले रंग का मिश्रण है। लाल रंग से हममें दृढ संकल्प आता है और पीले से सात्विक प्रवृत्ति का विकास होता है। इन्हीं भावों के सहारे हम संसार का माया-मोह त्याग पाते हैं।

11 .
English NameHindi NameType
Goldenसुनहराविरोधी रंग

सुनहरा रंग की विशेषता

यह सुनहरा रंग, ईश्वरीय प्रकाश और ईश्वरीय रहस्य का प्रतीक माना जाता है।

12 .
English NameHindi NameType
Maroonकरौंदिया या भूरा लाल रंगविरोधी रंग

13 .
English NameHindi NameType
Rubyगहरा लाल रंगविरोधी रंग

गहरा लाल रंग रंग की विशेषता

माणिक्य का लाल रंग की आभा लिये होता है. यह अन्य रंगों जैसे गुलाबी, काला और नीले रंग में भी पाया जाता है. यह अत्यंत कड़ा होता है. पृथ्वी पर पाये जाने वाले खनिजों में सिर्फ हीरा ही इससे कठोर होता है.

14 .
English NameHindi NameType
Navy Blueगहरा नीलाविरोधी रंग

गहरा नीला रंग की विशेषता

गहरा नीला रंग शयनकक्ष के लिए उपयुक्त रंग माना जाता है। फेंगशुई के अनुसार, शयनकक्ष में गहरा नीला रंग तनावमुक्त, गहरी और सुकूनभरी नींद प्रदान करता है। इस रंग की एक और खासियत है कि यह ब्लड प्रेशर के मरीजों को स्वास्थ्य लाभ प्रदान करता है। नीला रंग ब्लड प्रेशर को सामान्य रखने में मददगार होता है।.

15 .
English NameHindi NameType
Azureआसमानी रंगद्वितीयक रंग

आसमानी रंग की विशेषता

  • आसमानी रंग द्वितीयक रंग की श्रेणी में आता है।
  • आसमानी रंग को ठंड़ा रंग माना जाता है।
  • आसमान के रंग का होने के कारण इसे आसमानी रंग कहा जाता है।
  • आसमानी रंग नीला और सफ़ेद रंग के मिश्रण से प्राप्त होता है।

16 .
English NameHindi NameType
Clayमिट्टी जैसा रंगद्वितीयक रंग

17 .
English NameHindi NameType
Silverचांदी जैसा रंगविरोधी रंग

18 .
English NameHindi NameType
Beigeगहरा पीलाविरोधी रंग
19 .
English NameHindi NameType
Bronzeपीतल रंगविरोधी रंग

20 .
English NameHindi NameType
Off Whiteधूमिल सफ़ेदविरोधी रंग

21 .
English NameHindi NameType
Metallicधातुमय रंगविरोधी रंग

22 .
English NameHindi NameType
Turquoiseफ़िरोज़ाविरोधी रंग
23 .
English NameHindi NameType
Amberभूरा पीला रंगविरोधी रंग
24 .
English NameHindi NameType
Turquoiseफ़िरोज़ाविरोधी रंग
25 .
English NameHindi NameType
Rustजंग रंगविरोधी रंग
26 .
English NameHindi NameType
Grapeअंगूर का रंगविरोधी रंग
27 .
English NameHindi NameType
Plumबेर रंगविरोधी रंग
28 .
English NameHindi NameType
Mintटकसाल रंगविरोधी रंग
29 .
English NameHindi NameType
Limeचूने का रंगविरोधी रंग
30 .
English NameHindi NameType
Oliveजैतून का रंगविरोधी रंग
31 .
English NameHindi NameType
Ivoryहाथीदांत रंगविरोधी रंग

ये भी पढ़े :

ये था हमारा लिख रंगों के नाम हिंदी और अंग्रेज़ी में (Color name in Hindi and English). उम्मीद है ये article आपको पसंद आया होगा. अगर आप चाहते है की ये लेख बाकि लोगों को भी पसंद आये तो ये article को Share करना न भूलें. धन्यवाद

Leave a Comment