रेफरल लिंक या रेफरल कोड क्या है

  •  
  •  
  •  
  •  
  •  
  •  

Last updated on May 12th, 2020 at 05:13 am

आजके समय में लगभग सभी internet का यूज करते है l internet का यूज करते हुये आपने कभी ना कभी रेफरल लिंक (Referral Link) या रेफरल कोड (Referral Code) के बारे में सुना या देखा होगा l

Whats app , Facebook, instagram पर आपके किसी दोस्त ने रेफरल लिंक (Referral Link) या रेफरल कोड (Referral Code) कभी ना कभी जरुर भेजे होंगे l

क्या आपने कभी सोचा है ये रेफरल लिंक (Referral Link) या रेफरल कोड (Referral Code)  क्या होता है और इसके भेजने के पीछे किसी का क्या फायदा/मकसद होता है एसे ही कई सारे सवाल आपके मन में उठ रहे होंगे

आजके इस लेख में हम ये जानने की Referral code/ Referral Link क्या होता है, Referral code/ Referral Link क्यों बनाया जाता है,  Referral Marketing vs Affiliate Program , किसी बिजिनस को प्रमोट  करने के लिए दोनों मे से कोनसा सही रहता है ? और भी बहुत कुछ जानगे l

आज हम जानेंगे l 

रेफरल लिंक या रेफरल कोड क्या होता है l 

Referral code in Hindi

 

जब कोई कंपनी मार्केट में अपना कोई प्रोडक्ट  या सर्विस लोंच  करती है  तो उसके समने सबसे बड़ी चुनोती ये रहती है की वो अपने प्रोडक्ट और सर्विस को कैसे लोगो तक पहुचाये l

आजके डिजिटल युग में कई सारे ऐसे तरीके है जिनका यूज करके कोई भी कंपनी अपने प्रोडक्ट और सर्विस को बड़े ही आसानी से लोगो तक पहुचा सकती है

जिसमे से सबसे आसन और अच्छा तरीका रेफ़रल और Affiliate Program को माना जाता है रेफ़रल और Affiliate Program दोनों ही  एक दुसरे के काफी समान है दोनों ही तरीको में लोगो को जोड़ा जाता है

लोगो को जोड़ने पर कंपनी जोड़ने वालो को कमिसन या रिवॉर्ड  देती है लेकिन कई मायनो में देखा  जाये तो  कंपनी रेफरल प्रोग्राम  को ज्यादा पसंद करती है

आगे हम Affiliate Program के बारे में बिस्तार से जानेगे l तो चलिए Referral code/ Referral Link के बारे में जान लेते है पहले  l

कंपनी अपने किसी प्रोडक्ट (यहा  हम प्रोडक्ट को Application मान रहे है ) को प्रमोट करने के लिए लोगो का सहारा लेती है जिसके बदले वह प्रोमोट करने वाले को कमिसन भी देती है

यहा सबसे बड़ा सवाल ये उठ जाता है की कंपनी कैसे पता करे की अपने कितने लोगो को उनका Application install  कराया है ? ये सारा काम Digitally होता है ना ही आप कंपनी वालो से मिलते हो , ना ही आपका कोई बॉस होता है ,

ना  ही आप रोज किसी को बताते हो की अपने आज इतने लोगो को Application install कराया है तो ऐसे में कैसे पता चले कंपनी को की आपने कितने लोगो को जोड़ा है  ?

इसका पता लगाने के लिये कंपनी आपको एक रेफरल कोड  या  रेफ़रल लिंक की  सुविधा देती है जिसकी सहायता से वो ये पता (Track)  लगा पाती है की आपने कितने लोगो को जोड़ा है और फिर उसी हिसाब से आपको वो कमीशन देती है

REFERRAL LINK
ये एक Tracking Link होता है जिसके पता चलता है की आपके द्वारा किये गये प्रमोशन से कंपनी की वेबसाइट को कितने क्लिक  मिले या अगर एप्लीकेशन है तो कितनी बार वो एप्लीकेशन आपके द्वारा दिए गये लिंक से डाउनलोड किया गया l
REFERRAL CODE
कई एप्लीकेशन में रेफरल कोड का ऑप्शन होता है यह कोड भी यूनिक और ट्रेकिंग कोड होता है जो बिलकुल ट्रेकिंग लिंक (Tracking Link) की तरह काम करता है

रेफरल कोड को हिंदी और इंग्लिश में अलग अलग नामो से जाना जाता है चलिये देखते है

REFERRAL CODE MEANING IN HINDI

  • किसी व्यक्ति को सहायता या जानकारी के लिए किसी अन्य व्यक्ति या स्थान पर निर्देशित करने की प्रक्रिया
  • परामर्श
  • कोई व्यक्ति जिसके लिए सिफारिश की गई हो
  • पेशेवर सलाह के लिए संदर्भित किए जाने वाला कोई
  • सुझाव देना
  • एक रोगी के मामले को एक विशेषज्ञ डॉक्टर को निर्देशित करना
  • संदर्भ करने का एक कार्य
  • एक व्यक्ति जो किसी द्वारा संदर्भित किया गया है

REFERRAL CODE MEANING IN ENGLSIH

  • Someone being referred for professional advice
  • To refer for consultation
  • An act of referring
  • To suggest
  • The directing of a patient’s case to a specialist doctor

ये पढ़े 

रेफरल मार्केटिंग और अफिलिएट मार्केटिंग क्या है l 

REFERRAL MARKETING 

रेफरल प्रोग्राम को एक मोटी रकम खर्च किए बिना किसी व्यवसाय को बढ़ावा देने के सर्वोत्तम तरीकों में से एक माना जाता है ।

रेफेरल मार्केटिंग को वर्ड-ऑफ-माउथ मार्केटिंग (Word-of-Mouth Marketing) के नाम से भी जाना जाता है रेफरल मार्केटिंग मुंह के शब्द से रेफरल को प्रोत्साहित करने और महत्वपूर्ण रूप से बढ़ाने की एक प्रक्रिया है

रेफरल मार्केटिंग में अगर ग्राहक को कोई प्रोडक्ट पसंद आता है तो वो उसे अपने दोस्तों , रिश्तदारो को बताते है जिससे प्रोडक्ट की मार्केटिंग होती है

इस काम के लिए कोई भी कंपनी अपने ग्राहक से सिफारिश नही करती l वो बस एक रेफ़रल प्रोग्राम चला देती है l जिसका यूज करके ग्राहक अपने आप उनके प्रोडक्ट को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुचा देता है

इसके लिए कंपनी अपने ग्राहक को समय समय पर रिवॉर्ड और कुछ परुस्कार देती रहती है जिससे ग्राहक को भी फायदा होता है और कंपनी को भी l

एक रेफरल प्रोग्राम में एक रेफरल लिंक और एक रेफरल कोड  होता है जिसे आपके ग्राहक अपने दोस्तों के साथ साझा करते है । एक बार जब उनके दोस्त आपके सदस्ये बन जाते  हैं, तो आप उन्हें कुछ इनाम देते हैं।

न्यूयॉर्क टाइम्स के अनुसार, सभी नए बिज़नस का 65% रेफरल से आता है। इसका मतलब है कि औसतन, दो-तिहाई उपभोक्ता खरीदारी करते हैं क्युकी उनसे किसी ने सिफारिश की होती है या बताया होता है की ये प्रोडक्ट अच्छा है

AFFILIATE MARKETING 

रेफरल प्रोग्राम की तरह इसमे कोई इनाम या रिवॉर्ड नही मिलता l Affiliate Marketing में आप किसी भी प्रोडक्ट को अपने पसंद के हिसाब से प्रमोट कर सकते है इसके बदले आपको तय किये हुये कमीशन मे से पैसे दे दिये जाते है l

अगल अगल प्रोडक्ट का कमीशन अलग अलग होता है जब कोई आपके द्वारा दिए गये लिंक से उस प्रोडक्ट को खरीदता है तो आपको उस प्रोडक्ट के हिसाब से कमीशन दे दिया जाता है

प्रमोट करने के लिए आपके पास एक वेबसाइट या Audience का होना जरुरी है जिससे आप ज्यादा से ज्यादा पैसे कमा सकते है

रेफरल मार्केटिंग की तरह यहा भी आपको रेफरल लिंक दी जाती है जो की हर प्रोडक्ट के हिसाब से अलग अलग होती है कई सारे बिज़नस आज भी पूरी तरह Affiliate Marketing पर चल रहे है जैसे Amazon , Flipcart etc .

रेफरल मार्केटिंग और अफिलिएट मार्केटिंग में अंतर l 

Relationship with the audience

Affiliate : इसमें आप कस्टमर को नही जानते l कस्टमर भले आपका Follower हो सकता है इसमें आप प्रोडक्ट की मार्केटिंग कर लोगो पर अपना विशवास बनाते है

Refferal : रेफ़रल में आप अपने दोस्त और फेमिली को खुद बोलकर प्रोडक्ट को प्रमोट करते हो l यहा  Trust Lever ज्यादा होत है क्योकि आप जिनको ये भेजते हो वो आपको Personally जानते है और उन्हें आप पर Trust भी होता है

The loyalty of the customers

Affiliate : यहा Trust Lever की कमी होती है l ये एक लम्बे समय का प्रोसेस होता है जिसमे कस्टमर खोने की ज्यादा संभावना बनी रहती है

Refferal : किसी दोस्त के द्वारा बताया जाने पर इसका Trust Lever बहुत ज्यादा होता है और यहा जो कस्टमर बनते है उनके खोने की बहुत कम संभावना होती है

Types of Rewards

Affiliate : यहा आप जितना प्रोडक्ट सेल करेंगे उसी हिसाब से आपको कमीशन पैसो के रूप में दिया जाता है l कभी कभी आपको कस्टमर पर आपका Trust बनाने के लिए फ्री प्रोडक्ट भी देना पड़ सकता है

Refferal : यहा आपको प्रोडक्ट को सेल नही करना होता यहा आप प्रोडक्ट को अपने दोस्त को बताते हो की वो भी इसे यूज करे जिसके बदले आपको रिवॉर्ड / कैशबैक या कुछ फ्री सर्विसेज दे दी जाती है

Medium of Share

Affiliate : इसमे आपको प्रोडक्ट को प्रमोट करने की लिए एक वेबसाइट या ब्लॉग बनाना होता है ब्लॉग पर आप अपने प्रोडक्ट का रिव्यु या उनकी खूबिय बता के लोगो को उस प्रोडक्ट के लिए जागरूक करते हो जिससे वो उस प्रोडक्ट को लेने के इच्छुक हो जाते है

Refferal : इसे प्रमोट करने के लिए आपको कोई वेबसाइट की जरुरत नही पडती l आप इसे डायरेक्टली सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर कर सकते है

इसमें आपको अपना Referral code/ referral Link शेयर करना होता है जिससे आप ये जान सकेंगे की आपके Referral code/ referral Link से कितने लोग जुड़े है

किसी BUSINESS को PROMOTE करने के लिए दोनों मे से कोनसा सही रहता है

इन दोनों मे से किसी एक का चयन करना कई बात पर निर्भर करता है जैसे आपका बजट कितना है आप अपने कस्टमर को किस तरीके से जोड़ना चाहते है

अगर आपके पास अच्छा बजट है तो आप एफिलिएट की तरफ रुख कर सकते है लेकिन अगर आप चाहते है की आपके बिज़नस को लोग बोल कर प्रमोट करे तो फिर आप Refferal Marketing की तरफ जा सकते है

जैसा की आपको हमने उपर बता ही दिया है किसमे  Customer Trust ज्यादा होता है और किसमे कस्टमर की बने रहने की संभावना ज्यादा होती है तो इसका चयन आप अपने विवेक से कर सकते है की आपके बिज़नस के लिए क्या सही रहेगा l

आजके लेख में बस इतना ही अगर आपका Referral Code को लेके कोई सवाल हो तो आप निचे कमेंट बॉक्स में पूछ सकते है l 

अगर आप एक Student है तो हमारे ब्लॉग को सब्सक्राइब जरुर कर ले क्योकि इस ब्लॉग पर हम Student के Career और Study के बहुत सारे टॉपिक के बारे में लिखते रहते है जिसे पढ़ कर आप अपने जीवन में कुछ बन सकते है l 

भविष्य में ऐसी ही रोचक जानकारियों के लिए हमारे Blog को Follow करे और साथ के साथ आप हमारे फेसबुक पेज और इंस्टाग्राम पेज को फॉलो कर सकते है l

धन्यवाद ! 

Related Queries : referral code meaning in hindi, i have a referral code meaning in hindi, referral code kya hai, referral meaning in hindi, referral code in hindi, refer meaning in hindi

Leave a Comment