RAM क्या है, DDR1 DDR2 DDR3 DDR4 क्या होता है

ram ka full form
दोस्तो सबसे पहले तो आपको RAM का Full Form बात दे ( Random Access Memory ), इसके नाम से इसके काम का अंदाज़ा लगाना थोड़ा बहुत मुश्किल है हालांकि आपको इतना तो पता चल ही गया होगा कि ये किसी तरह की मेमोरी से संबंधित चीज़ है !
अपने कई बार मोबाइल या कंप्यूटर खरीदते समय RAM का एक बार को खयाल जरूर आया होगा, आना भी लाज़मी है क्योंकि रैम ही आपके मोबाइल या कंप्यूटर पर किये जाने वाले काम को स्पीड देती है आइए जानते है RAM क्या होती है, इसका इस्तेमाल क्या है !

RAM क्या होती है रैम का कंप्यूटर/लैपटॉप में इस्तेमाल रैम का मोबाइल में इस्तेमाल

हम सभी जानते है कि की कंप्यूटर या मोबाइल के Operating System को चलाने के लिए या उसके Data Process करने के लिए हमे रैम की जरूरत पड़ती है !

साधारण भाषा मे बताने की कोशिश करूं तो RAM एक तरह की मेमोरी है जो आपके कंप्यूटर या मोबाइल या फिर आपके लैपटॉप की इंटरनल मेमोरी या हार्डडिस्क से अलग होती है जो सिर्फ टेम्पोररी बेस पर इस्तेमाल में आती है आपके किये हुए काम के बाद फ्री ह्यो जाती है !

एक उदहारण ( कंप्यूटर के लिए ) के तौर पर आपको बताने की कोशिश करता हूँ, मान लीजिये आप किसी टेबल पर बैठ कर काम कर रहे है, और टेबल पर अपने बहुत सारा अपने काम की चीज़ों को कुछ समय के लिए इकट्ठा कर लिया है और काम खत्म होने के बाद आप उन सभी चीज़ों को वापस उनकी निर्धारित जगह पर वापस रख दोगे !

 RAM क्या होती है, DDR1 DDR2 DDR3 DDR4 क्या होता है

अब इस उदहारण को आप अपने कंप्यूटर पर काम के नजरिये से सोचिए, जैसे आप इनटरनेट पर काम कर रहे है और अपने इनटरनेट के जरिये कुछ फाइल्स डाउनलोड की और वो आपने अपने डेक्सटॉप की विंडो पर सेव कर दी तो वह आपको हार्डडिस्क में सेव नही हुई वो आपकी टेम्पोररी मेमोरी यानी RAM में जाके सेव हो गई !

जब भी आप उस फ़ाइल को या फिर किसी अन्य फाइल्स या सॉफ्टवेयर को खोलते है उस दौरान इस्तेमाल में आने वाली मेमोरी या फिर ये कह सकते है कि उस सॉफ्टवेयर या फ़ाइल को खोलने में लगी ताकत RAM की होती है न कि आपके कंप्यूटर के हार्डडिस्क या इंटर्नल मेमोरी की !

RAM Uses In Mobiles 

जानते है RAM का मोबाइल में क्या इस्तेमाल होता है, जब भी आप कोई अपने android phone में कोई एप्लीकेशन इंस्टॉल करते हो तो आपको पता होगा कि वह एप्लिकेशन सीधा आपके RAM की मेमोरी में जाके इनस्टॉल ह्यो जाती है !

ऐसा इसलिए क्योंकि आपके मोबाइल में सिर्फ RAM ही ऐसी मेमोरी होती है जिसको आप Access कर सकते हो बाकी सॉन्ग, वीडियो, पिक्चर सिर्फ आप देख सुन सकते हो, वही एप्लीकेशन को आप अलग अलग तरह से इस्तेमाल करते हो इसलिए इसको एक्सेस करना कहते है !

मान लीजिए आपके मोबाइल 2GB की रैम लगी हुई है और आप फेसबुक का इस्तेमाल करना चाहते हो तो आपके द्वारा इंस्टॉल की गई फेसबुक एप की जितनी भी मेमोरी है या फिर जितना भी साइज का एप है तो वो आपके रैम से कम हो जाएगा जब तक आप फेसबुक को uninstall नही करते !

RAM कम या ज्यादा होने से क्या होता है 

दोस्तो जैसा कि आपको बताया कि RAM काम होने से कंप्यूटर की स्पीड धीमी हो जाएगी, क्योकि आप नॉर्मली कंप्यूटर पर मल्टीटास्किंग काम करते है यानी एक समय दो तीन काम करते है, तो रैम का काम ही आपकी फाइल्स को एक्सेस करना है तो जब आप कम रैम वाले कंप्यूटर में ज्यादा हैवी काम करोगे तो आपका कंप्यूटर धीमा व हैंग होने लगेगा !

ठीक ऐसा ही आपके मोबाइल के साथ भी होगा, आपको जैसा कि बताया मैंने आप जितनी भी ऐप्स इनस्टॉल करते हो तो वो सभी आपके RAM में जा के स्टोर हो जाती है और उनको एक्सेस करने के लिए आपको रैम का ही सहारा लेना पड़ता है !

मोबाइल में एक और परेशानी का सामना आपको करना पढ़ सकता है काम मेमोरी के चलते वो है स्टोरेज फुल का, अगर आप लिमिट से ज्यादा ऐप्स को इंस्टॉल करते है तो आपका मोबाइल धीमा व हैंग लगेगा साथ ही गर्म होने जैसी परेशानी भी सकती है इसलिए जब भी आप कोई मोबाइल खरीदे तो कम से उसमे 2 या 4 GB रैम होना बेहद जरूरी है !

मोबाइल या कंप्यूटर की रैम को कैसे बढ़ाएं 

दोस्तो आप मोबाइल की रैम को कभी नही बढ़ा सकते है, क्योकि रैम मोबाइल के अंदर हार्डवेयर के रूप में फिक्स होती है जिसको आप न निकाल सकते न लगा सकते, अगर आपको रैम की कमी महसूस हो रही है तो आपको नया मोबाइल लेने के अलावा कोई और ऑप्शन नही है !

लेकिन आप अपने कंप्यूटर की रैम को बढ़ा सकते है क्योकि कंप्यूटर के CPU में रैम अलग से लगी होती है जिसको आप अपने कंप्यूटर के प्रोसेसर कब हिसाब से बढ़ा सकते है ऐसा इसलिए क्योकि रैम CPU के अंदर एक निश्चित स्थान पर होती है जिसके लिए एक अंदर एक स्लॉट दिया हुआ होता है लेकिन ये स्लॉट मोबाइल में नही होता है !

रैम कितने प्रकार के होते है 

  1. SDRAM (DRAM)
  2. SRAM ( Static RAM )

SDRAM क्या होता है 

SDRAM को हम Synchronous Dynamic Random Access Memory कहते है ये बाजार में मुख्यतः DDR1, DDR2, DDR3, और DDR4 नामो से मिलते है और इन्ही का उपयोग हम अपने कंप्यूटर में करते है लेकिन आजकल DDR4 आजकल के सभी नए कंप्यूटर्स और मोबाइल्स में आ रहे है और सबसे जरूरी बात DDR का मतलब होता है DOUBLE DATA RATE !

DRAM से जुड़े कुछ तथ्य 

  • ये बहुत दिनों तक चलता है !
  • इसको बार बार रिफ्रेश करने की जरूरत पड़ती है यानी इसको पॉवर की जरूरत ओढती है !
  • इसकी स्पीड काफी कम होती है !
  • इस CACHE मेमोरी के लिए इस्तेमाल किया जाता है !
  • इसकी साइज काफी कम होती है !
  • कंप्यूटर में इसका इस्तेमाल काफी किया जाता है !
  • कंप्यूटर का डेटा प्रोसेस करने के लिए कुछ कोड्स की जरूरत पड़ती है तब इसका इस्तेमाल किया जाता है !
  • ये बाकी रैम से सस्ते होते है !
  • ये बिजली का उपयोग बाकी रैम से ज्यादा करते है !
  • इसको डायनामिक रैम के नाम से भी जाना जाता है !

SRAM ( Static RAM ) क्या होता है 

SRAM को हम Static RAM भी कहते है, आइए जानते है इससे जुड़े कुछ तथ्य (Facts) !

  • ये एक प्रकार का स्थिर रैम होता है मतलब इसको जबतक लाइट मिलती रहेगी तबतक ये चलता रहेगा !
  • SRAM को Static RAM भी कहा जाता है !
  • ये बार बार रिफ्रेश नही होता क्योंकि इसे बार बार रिफ्रेश होने की जरूरत नही होती !
  • ये काफी तेज स्पीड में चलता है यानी जल्दी डाटा प्रोसेस करता है !
  • इस DRAM से ज्यादा स्टोरेज चाहिए होता है !
  • SRAM को Cache memory के तौर पर भी उपयोग किया जाता है !
  • इस चलने के लिए पावर की कम जरूरत पड़ती है !

कुछ और फुल फॉर्म 

दोस्तो उम्मीद है आपको ये RAM क्या होती है, DDR1 DDR2 DDR3 DDR4 क्या होता है लेख पसंद आया होगा तो दोस्तो के साथ शेयर करे, इस लेख से जुड़े किसी भी प्रश्न के लिए नीचे कमेंट करे l 

अगर आपको ये आर्टिकल पसंद आया तो ये आर्टिकल अपने दोस्तों जे साथ शेयर करे और आप हमें फेसबुक और  इंस्टाग्राम पेज पर फॉलो कर सकते है जिससे आपको हमारे नए आर्टिकल की जानकारी मिलती रहे

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *